राजस्थान सामान्य ज्ञान-Rajasthan-Gk Introduction of Rajasthan

राजस्थान सामान्य ज्ञान-Rajasthan-Gk Introduction of Rajasthan

राजस्थान(Rajasthan) क्षेत्रफल की दृष्टि से हमारे देश का सबसे बड़ा राज्य है। राजस्थान(Rajasthan) देश के उत्तर पश्चिम में स्थित है। छठी सताब्दी के बाद राजस्थानी भू भाग में राजपूत(Rajput) राज्यों का उदय प्रारंभ हुआ । राजपूत(Rajput) राज्यों की प्रधानता के कारण इसे राजपुताना(Rajpuatana) कहा जाने लगा । वाल्मीकि ने राजस्थान(Rajasthan) प्रदेश को ‘मरुकांतर’(Marukantar) कहा है। राजस्थान(Rajasthan) शब्द का प्राचीनतम उपयोग ‘राजस्थानियादित्य’ वि संवत 682 में उत्कीर्ण वसंतगढ़ (सिरोही ) के शिलालेख में मिलता है । उसके बाद मुहणोत(Muhannot) नैणसी की ख्यात(Muhnot Nainsi Ki Khyat) व राजरूपक(Raajroopak) में राजस्थान(Rajasthan) शब्द का प्रयोग हुआ है , परन्तु इस भाग के लिए राजपूताना(RajPutana) शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग 1800 ईसवी में जॉर्ज(George) थॉमस द्वारा किया गया था । कर्नल जेम्स(Gems) टॉड (Political agent o f west and middle Rajput States of India) ने इस राज्य को “रायथान” कहा क्योंकि स्थानीय साहित्य एवं बोलचाल में राजाओं के निवास के प्रान्त को ‘रायथान’ (raythan) कहते थे। उन्होंने 1829 ईसवी में लिखित अपनी प्रसिद्ध पुस्तक “Annals and antiquities of Rajas’Than( or central and Western Rajpoot States of India) में सर्वप्रथम इस भौगोलिक भाग के लिए राजस्थान(Rajasthan) शब्द का प्रयोग किया । स्वतंत्रता के पश्चात 26 जनवरी 1950 को ओपचारिक रूप से इस प्रदेश का नाम राजस्थान(Rajasthan) स्वीकार किया गया । राजस्थान(Rajasthan) अपने वर्तमान स्वरुप में 1 नवम्बर 1956 को आया। इससे पुर्व राजस्थान(Rajasthan) निर्माण के विभिन्न चरणों से गुजरा ।

यह भी पढ़े 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here