Rajasthan ki vidyut pariyojana – राजस्थान का विद्युत परियोजना

राजस्थान का पष्चिमी क्षेत्र जैसलमेर, जोधपुर, बाड़मेर, सौलर एनर्जी के लिए सर्वांधिक उपयुक्त जिले हैं। इसी उद्देष्य से राजस्थान सरकार ने इन तीनों जिलो को सीज क्षेत्र घोषित किया हैं। सौलर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए विष्व बैंक व जर्मनी की सहायता से प्रोजेक्ट लगाए जा रहे हैं।

History Of Modern India PDF By Bipan Chandra in PDF

Like Us On FBFollow Us On TwitterJoin Us On TelegramShare Your Materials At [email protected] This Post To The Needy Aspirants

Tutorials Point Indian History PDF Download

Like Us On FBFollow Us On TwitterJoin Us On TelegramShare Your Materials At [email protected] This Post To The Needy Aspirants

Rajasthan ki Nadiyan राजस्थान की नदियाँ Gk In Hindi

प्राकृतिक रूप से बहती हुई जलधारा जो सागर में गिरे नदी कहलाती हैं। राजस्थान के नदीतंत्र को प्राकृतिक रूप से 3 भागों में विभाजित किया जाता हैं:-

Panchvarshiya Yojana – पंचवर्षीय योजना तथा औद्योगिक विकास

इस योजना का प्रारूप हेरोल्ड नामक अर्थषास्त्री ने तैयार किया। इसलिए इसे हेराल्ड माडल भी कहाजाता हैं। पहली पंचवर्षींय योजना से लेकर 7 वीं योजना तक सिंचाई, कृषि व विद्युत पर सर्वांधिक बल दिया गया। सन् 1953 में राजस्थान में ग्रामीण स्तर पर पंचायती राज अधिनियम लागू किया गया।

GK Trick – भारत के राष्ट्रपति (President of India) – GK Tricks

GK Trick Constitution नमस्कार दोस्तो, भारत के राष्ट्रपतियों को क्रम से याद रखना...

Rajasthan ki aarthik suchkank – राजस्थान के आर्थिंक सूचकांक –

देष के कुल पशुधन में राजस्थान का हिस्सा 11.2 % हैं। राजस्थान की दूध उत्पादन में भागीदारी 10 % हैं। यह दूसरे स्थान पर हैं। दूध से बने उत्पादों में गुजरात पहले स्थान पर हैं। ऊन उत्पादन में राजस्थान पहले स्थान पर हैं ;41.6 %द्ध।