Home 2019 March

Monthly Archives: March 2019

Rajasthan ki vidyut pariyojana – राजस्थान का विद्युत परियोजना

राजस्थान का पष्चिमी क्षेत्र जैसलमेर, जोधपुर, बाड़मेर, सौलर एनर्जी के लिए सर्वांधिक उपयुक्त जिले हैं। इसी उद्देष्य से राजस्थान सरकार ने इन तीनों जिलो को सीज क्षेत्र घोषित किया हैं। सौलर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए विष्व बैंक व जर्मनी की सहायता से प्रोजेक्ट लगाए जा रहे हैं।

राजस्थान की सिंचाई परियोजनाऐं – Rajasthan Gk In Hindi for RPSC Exam

पहली पंचवर्षीय योजना के दौरान स्थापित बहुउद्देष्यीय परियोजना हैं। जो राजस्थान व मध्यप्रदेष की संयुक्त परियोजना हैं। इस परियोजना के अन्तर्गत तीन बांध बनाए गए हैं, जो निम्नलिखित हैं:- गांधी सागर बांध (मध्यप्रदेष के मन्दसौर जिले में):-

राजस्थान के उद्योग – Rajasthan Gk In Hindi For RPSC Exam

राजस्थान उद्योगों की दृष्टि से अत्यधिक पिछड़ा हुआ हैं। कारण पानी की कमी, बिजली की कमी, सरकारी नीतियां।

राजस्थान की खनिज सम्पदा – Rajasthan Gk In Hindi For RPSC Exam

राजस्थान खनिजों की किस्म की दृष्टि से प्रथम स्थान पर हैं। राजस्थान में सभी प्रकार के खनिज पाए जाते हैं, कुछ खनिज ज्यादा, कुछ कम। राजस्थान के दक्षिण में खनिजों की किस्म व मात्रा दोनों सर्वांधिक हैं।

राजस्थान में वनस्पति – Rajasthan Gk In Hindi For RPSC Exam

राजस्थान में सामान्य रूप से उष्ण कटिबंधीय वनस्पति पाई जाती हैं।ऊँचाई पर पाई जाने वाली वनस्पति उपोष्ण कटिबन्धीय कहलाती हैं। जिसमें शीतोष्ण व उष्ण दोनो वनस्पति कीविषेषताएँ होती हैं, इसलिए उपोष्ण कहते हैं

राजस्थान की मिट्टियां – Rajasthan GK In Hindi For RPSC Exam

राजस्थान के दक्षिण में लाल मिट्टी माई जाती हैं। दक्षिण-पूर्व में काली मिट्टी पाई जाती हैं। उत्तरी-पूर्वी व पूर्वी मैदानी भाग में जलोढ़ मिट्टी पाई जाती हैं। उत्तर में (गंगानगर, हनुमानगढ़) में जलोढ़ मिट्टी पाई जाती हैं।

राजस्थान का सामान्य ज्ञान – Rajasthan GK In Hindi For RPSC EXAM

घड़ी दिषा सें:-गंगानगर, हनुमानगढ़, चुरू, झुन्झनु, सीकर, जयपुर, अलवर, भरतपुर, धौलपुर, करौली, सवाईमाधोपुर, कोटा, झालावाड़, बारां, चित्तौडगढ़, भीलवाड़ा, प्रतापगढ़, , उदयपुर, सिरोही, जालौर