हिन्दी भाषा समानार्थी शब्द / Synonyms Word

पर्यायवाची शब्द / Synonyms Wordजिन शब्दों के अर्थ में समानता होती है, उन्हें समानार्थक या पर्यायवाची शब्द कहते है या किसी शब्द-विशेष के लिए प्रयुक्त समानार्थक शब्दों को पर्यायवाची शब्द कहते हैं। यद्यपि पर्यायवाची शब्दों के अर्थ में समानता होती है, लेकिन प्रत्येक शब्द की अपनी विशेषता होती है और भाव में एक-दूसरे से किंचित भिन्न होते हैं।पर्यायवाची शब्दों का प्रयोग करते हुए विशेष सावधानी बरतनी चाहिए। अत: पर्यायवाची का अर्थ है – समान अर्थ देने वाल़ा । हिन्दी भाषा में एक शब्द के समान अर्थ वाले कई शब्द हमें मिल जाते हैं।

  • अहंकार- दंभ, गर्व, अभिमान, दर्प, मद, घमंड।
  • अमृत- सुधा, अमिय, पीयूष, सोम, मधु, अमी।
  • असुर- दैत्य, दानव, राक्षस, निशाचर, रजनीचर, दनुज, रात्रिचर।
  • अतिथि- मेहमान, अभ्यागत, आगन्तुक, पाहूना।
  • अनुपम- अपूर्व, अतुल, अनोखा, अदभुत, अनन्य।
  • अर्थ- धन्, द्रव्य, मुद्रा, दौलत, वित्त, पैसा।
  • अश्व- हय, तुरंग, बाजी, घोड़ा, घोटक।
  • अंधकार- तम, तिमिर, तमिस्र, अँधेरा।
  • आम- रसाल, आम्र, सौरभ, मादक, अमृतफल, सहुकार।
  • आग- अग्नि, अनल, हुतासन, पावक, दहन, ज्वलन, धूमकेतु, कृशानु, वहनि, शिखी, वह्नि।
  • आँख- लोचन, नयन, नेत्र, चक्षु, दृग, विलोचन, दृष्टि, अक्षि।
  • आकाश- नभ, गगन, अम्बर, व्योम, अनन्त, आसमान, अंतरिक्ष, शून्य, अर्श।
  • आनंद- हर्ष, सुख, आमोद, मोद, प्रमोद, उल्लास।
  • आश्रम- कुटी, विहार, मठ, संघ, अखाडा।
  • आंसू- नेत्रजल, नयनजल, चक्षुजल, अश्रु।
  • आत्मा- जीव, देव, चैतन्य, चेतनतत्तव, अंतःकरण।


  • इच्छा- अभिलाषा, अभिप्राय, चाह, कामना, लालसा, मनोरथ, आकांक्षा, अभीष्ट।
  • इन्द्र- सुरेश, सुरेन्द्र, देवेन्द्र, सुरपति, शक्र, पुरंदर, देवराज।
  • ईश्वर- परमात्मा, प्रभु, ईश, जगदीश, भगवान, परमेश्वर, जगदीश्वर, विधाता।
  • ओंठ- ओष्ठ, अधर, होठ।
  • कमल- नलिन, अरविन्द, उत्पल, राजीव, पद्म, पंकज, नीरज, सरोज, जलज, जलजात।
  • कृपा- प्रसाद, करुणा, दया, अनुग्रह।
  • किताब- पोथी, ग्रन्थ, पुस्तक।
  • कपड़ा- चीर, वसन, पट, अंशु, कर, मयुख, वस्त्र, अम्बर, परिधान।
  • किरण- ज्योति, प्रभा, रश्मि, दीप्ति, मरीचि।
  • किसान- कृषक, भूमिपुत्र, हलधर, खेतिहर, अन्नदाता।
  • कृष्ण- राधापति, घनश्याम, वासुदेव, माधव, मोहन, केशव, गोविन्द, गिरधारी।
  • कान- कर्ण, श्रुति, श्रुतिपटल।
  • कोयल- कोकिला, पिक, काकपाली, बसंतदूत, सारिका, कुहुकिनी, वनप्रिया।
  • क्रोध- रोष, कोप, अमर्ष, कोह, प्रतिघात।


  • गज- हाथी, हस्ती, मतंग, कूम्भा, मदकल ।
  • गाय- गौ, धेनु, सुरभि, भद्रा, रोहिणी।
  • गंगा- देवनदी, मंदाकिनी, भगीरथी, विश्नुपगा, देवपगा, ध्रुवनंदा, सुरसरिता, देवनदी, जाह्नवी, त्रिपथगा।
  • गणेश- विनायक, गजानन, गौरीनंदन, गणपति, गणनायक, शंकरसुवन, लम्बोदर, महाकाय।
  • गृह- घर, सदन, गेह, भवन, धाम, निकेतन, निवास, आलय, आवास, निलय, मंदिर।
  • गर्मी- ताप, ग्रीष्म, ऊष्मा, गरमी, निदाघ।
  • चरण- पद, पग, पाँव, पैर।
  • चंद्रमा- चाँद, हिमांशु, इंदु, विधु, तारापति, चन्द्र, शशि, हिमकर, राकेश, रजनीश, निशानाथ, सोम, मयंक, सारंग, सुधाकर, कलानिधि।
  • जल- अमृत, सलिल, वारि, नीर, तोय, अम्बु, उदक, पानी, जीवन, पय, पेय।
  • जंगल- विपिन, कानन, वन, अरण्य, गहन, कांतार, बीहड़, विटप।
  • जेवर – गहना, अलंकार, भूषण, आभरण, मंडल।
  • झूठ- असत्य, मिथ्या, मृषा, अनृत।


  • तालाब- सरोवर, जलाशय, सर, पुष्कर, पोखरा, जलवान, सरसी।
  • दास- सेवक, नौकर, चाकर, परिचारक, अनुचर।
  • दरिद्र- निर्धन, ग़रीब, रंक, कंगाल, दीन।
  • दिन- दिवस, याम, दिवा, वार, प्रमान।
  • दुःख- पीड़ा,कष्ट, व्यथा, वेदना, संताप, शोक, खेद, पीर, लेश।
  • दूध- दुग्ध, क्षीर, पय।
  • दुष्ट- पापी, नीच, दुर्जन, अधम, खल, पामर।
  • दर्पण- शीशा, आरसी, आईना, मुकुर।
  • दुर्गा- चंडिका, भवानी, कुमारी, कल्याणी, महागौरी, कालिका, शिवा।
  • देवता- सुर, देव, अमर, वसु, आदित्य, लेख।
  • धन- दौलत, संपत्ति, सम्पदा, वित्त।
  • धरती- धरा, धरती, वसुधा, ज़मीन, पृथ्वी, भू, भूमि, धरणी, वसुंधरा, अचला, मही, रत्नवती, रत्नगर्भा।
  • धनुष- चाप्, शरासन, कमान, कोदंड, धनु।
  • नदी- सरिता, तटिनी, सरि, सारंग, जयमाला, तरंगिणी, दरिया, निर्झरिणी।
  • नया- नूतन, नव, नवीन, नव्य।
  • नाव- नौका, तरणी, तरी।


  • पवन- वायु, हवा, समीर, वात, मारुत, अनिल, पवमान, समीरण, स्पर्शन।
  • पहाड़- पर्वत, गिरि, अचल, शैल, धरणीधर, धराधर, नग, भूधर, महीधर।
  • पक्षी- खेचर, दविज, पतंग, पंछी, खग, चिडिया, गगनचर, पखेरू, विहंग, नभचर।
  • पति- स्वामी, प्राणाधार, प्राणप्रिय, प्राणेश, आर्यपुत्र।
  • पत्नी- भार्या, वधू, वामा, अर्धांगिनी, सहधर्मिणी, गृहणी, बहु, वनिता, दारा, जोरू, वामांगिनी।
  • पुत्र- बेटा, आत्मज, सुत, वत्स, तनुज, तनय, नंदन।
  • पुत्री- बेटी, आत्मजा, तनूजा, सुता, तनया।
  • पुष्प- फूल, सुमन, कुसुम, मंजरी, प्रसून, पुहुप।
  • बादल- मेघ, घन, जलधर, जलद, वारिद, नीरद, सारंग, पयोद, पयोधर।
  • बालू- रेत, बालुका, सैकत।
  • बन्दर- वानर, कपि, कपीश, हरि।
  • बिजली- घनप्रिया, इन्द्र्वज्र, चंचला, सौदामनी, चपला, दामिनी, ताडित, विद्युत।
  • भूषण- जेवर, गहना, आभूषण, अलंकार।


  • मनुष्य- आदमी, नर, मानव, मानुष, मनुज।
  • मदिरा- शराब, हाला, आसव, मधु, मद।
  • मोर- केक, कलापी, नीलकंठ, नर्तकप्रिय।
  • मधु- शहद, रसा, शहद, कुसुमासव।
  • मृग- हिरण, सारंग, कृष्णसार।
  • मछली- मीन, मत्स्य, जलजीवन, शफरी, मकर।
  • माता- जननी, माँ, अंबा, जनयत्री, अम्मा।
  • मित्र- सखा, सहचर, साथी, दोस्त।
  • रात- रात्रि, रैन, रजनी, निशा, यामिनी, तमी, निशि, यामा, विभावरी।
  • राजा- नृप, नृपति, भूपति, नरपति, नृप, भूप, भूपाल, नरेश, महीपति, अवनीपति।
  • लक्ष्मी- कमला, पद्मा, रमा, हरिप्रिया, श्री, इंदिरा।


  • विष- ज़हर, हलाहल, गरल, कालकूट।
  • वृक्ष- पेड़, पादप, विटप, तरू, गाछ, दरख्त, शाखी, विटप, द्रुम।
  • विष्णु- नारायण, दामोदर, पीताम्बर, चक्रपाणी।
  • शिव- भोलेनाथ, शम्भू, त्रिलोचन, महादेव, नीलकंठ, शंकर।
  • शरीर- देह, तनु, काया, कलेवर, अंग, गात।
  • शत्रु- रिपु, दुश्मन, अमित्र, वैरी, अरि, विपक्षी, अराति।
  • शिक्षक- गुरु, अध्यापक, आचार्य, उपाध्याय।
  • साँप- अहि, भुजंग, ब्याल, सर्प, नाग, विषधर, उरग, पवनासन।
  • सूर्य- रवि, सूरज, दिनकर, प्रभाकर, आदित्य, दिनेश, भास्कर, दिवाकर।
  • संसार- जग, विश्व, जगत, लोक, दुनिया।
  • सोना- स्वर्ण, कंचन, कनक, हेम, कुंदन।
  • सिंह- केसरी, शेर, महावीर, हरि, मृगपति, वनराज, शार्दूल, नाहर, सारंग, मृगराज।
  • समुद्र- सागर, पयोधि, उदधि, पारावार, नदीश, जलधि, सिंधु, रत्नाकर, वारिधि।
  • समूह- दल, झुंड, वृंद, गण, पुंज।
  • स्त्री- नारी, महिला, अबला, ललना, औरत, कामिनी, रमणी।
  • सुगंधि- सौरभ, सुरभि, महक, खुशबू।
  • स्वर्ग- सुरलोक, देवलोक, परमधाम, त्रिदिव, दयुलोक।


  • हिमालय- हिमगिरी, हिमाचल, गिरिराज, पर्वतराज, नगेश।
  • हृदय- छाती, वक्ष, वक्षस्थल, हिय, उर।
  • हाथ- हस्त, कर, पाणि।
  • हाथी- नाग, हस्ती, राज, कुंजर, कूम्भा, मतंग, वारण, गज, द्विप, करी, मदकल।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here