राज्य की नदियों का क्षेत्रवार वर्गीकरण – राजस्थान सामान्य ज्ञान

राजस्थान सामान्य ज्ञान-राज्य की नदियों का क्षेत्रवार वर्गीकरण
राज्य की नदियों का क्षेत्रवार वर्गीकरण

उतरी व पश्चिमी राजस्थान लूनी जवाई, खारी, सूकडी, बाण्डी (हेमावास, पाली), सागी, जोजडी, घग्घर काँतली, काकनी/काकनेय (मसूरदी)

दक्षिणी पश्चिमी राजस्थान पश्चिमी बनास, साबरमती, वाकल, सेई

दक्षिणी राजस्थान माही सोम जाखम स मोरेन

दक्षिणी पूर्वी राजस्थान चम्बल कुनु पार्वती काली सिंध कुराल, आहू, नेवज, परवन मेज, आलिया, चाकण, छोटी काली सिंध, बामनी, बनास, बेडच, गंभीरी, कोठारी, खारी, माशी, मोरेल, कालीसिंध, डाई, सोहादरा, ढील

पूर्वी राजस्थान साबी, मेन्था, रूनगढ, बाणगंगा, रूपारैल, गंभीर, पार्वती

नदियों किनारे संगम पर बने दुर्ग गागरोन का किला आहू व कालीसिंध नदी के संगम पर
भैंसरोड़गढ़ दुर्ग (चित्तौड़गढ़ दुर्ग) चम्बल व बामनी नदियों के संगम पर
शेरगढ (कोशवर्धन दुर्ग) परवन नदी के किनारे
चितौड़गढ़ दुर्ग गंभीरी और बेड़च के संगम स्थल के निकट पहाडी पर
मनोहर थाना दुर्ग (झालावाड़) परवन और कालीखड नदियों के संगम पर
गढ पैलेस कोटा चम्बल नदी के किनारे

नदियों में या उनके निकट स्थित अभयारण्य 

राष्ट्रीय चम्बल घडियाल अभयारण्य – चम्बल नदी
जवाहर सागर अभयारण्य चम्बल नदी
शेरगढ अभयारण्य – परवन नदी
बस्सी अभयारण्य (चितौड़गढ़) – ओरई व बामनी नदियों का उद्गम
भैंसरोड़गढ़ – चम्बल व बामनी का संगम

नदियों के त्रिवेणी संगम स्थल 
बनास मेनाड बेडच – मेनाल (भीलवाडा)
माही जाखम सोम –   बेणेश्वर (डूँगरपुर)
बनास चम्बल व सीप – रामेश्वर घाट (सवाई माधोपुर)

यह भी पढ़ें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here